एम्स की टीम ने वृद्धाश्रम में कराया योग, बुजुर्गों को बताए नियमित योगाभ्यास के फायदे

भोपाल। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (21 जून) के उपलक्ष्य में तैयारियां शुरू हो गई हैं। लोगों को योगाभ्यास के फायदे बताते हुए उन्हें योग करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। जगह-जगह योग शिविर लगाए जा रहे हैं। इसी सिलसिले में एम्स के आयुष विभाग की टीम द्वारा मंगलवार को रोहित नगर स्थित अपना घर वृद्धाश्रम में योग और ध्यान सत्र का आयोजन किया गया। यहां टीम के सदस्यों द्वारा वृद्धाश्रम के सदस्यों से आसन, प्राणायाम और निर्देशित ध्यान कराए गए।इस कार्यक्रम में बुजुर्गों की सेहत के अनुरूप सामूहिक कल्याण और आध्यात्मिकता का वातावरण बनाते हुए संक्षिप्त प्रार्थना, सही मुद्रा, मन और हृदय को केंद्रित करने के लिए जप अभ्यास, निर्देशित ध्यान, दृश्यकरण अभ्यास, आसन व प्राणायाम आदि कराए गए। सत्र का संचालन आयुष विभाग के योग प्रशिक्षक चंचल सूर्यवंशी व शरीर क्रिया विभाग के अतिरिक्त प्रो. डा. वरुण मल्होत्रा ने किया।

ओस्टियोपोरोसिस में फायदेमंद है योग

आयुष विभाग के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डा. दानिश जावेद ने बताया कि उम्र बढ़ने के साथ हड्डियों का घनत्व कम होता जाता है, जिससे आस्टियोपोरोसिस जैसी समस्याएं पैदा होती हैं। जोड़ भी सख्त हो जाते हैं और खासकर गठिया और अन्य गतिशीलता संबंधी समस्याओं से पीड़ित लोगों के लिए स्वतंत्र रूप से हिलना-डुलना मुश्किल हो जाता है। योग का नियमित अभ्यास हड्डियों के इस नुकसान को रोक सकता है या धीमा कर सकता है। साथ ही आस्टियोपोरोसिस से जुड़े दर्द से राहत दिला सकता है। यह टखनों, घुटनों, कूल्हों, पीठ और कलाई में जोड़ों के आसपास की मांसपेशियों को मजबूत भी करता है, जो शरीर को चलते रहने में मदद करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button